विद्या भारती द्वारा निर्धारित सत्र- 2024-25 के लिए वार्षिक गीत (प्राथमिक कक्षाओं हेतु)

[featured_image]
Download
Download is available until [expire_date]
  • Version
  • Download 243
  • File Size 17.24 KB
  • File Count 1
  • Create Date February 26, 2024
  • Last Updated February 26, 2024

विद्या भारती द्वारा निर्धारित सत्र- 2024-25 के लिए वार्षिक गीत (प्राथमिक कक्षाओं हेतु)

नन्हे-मुन्ने भोले-भाले शूरवीर हम सच्चे हैं।
सिंहों के संग खेले हैं हम, भारत माँ के बच्चे हैं ।।

मैनावती हकीकत जैसे, वीरव्रती बलिदानी हैं।
ध्रुव प्रहलाद से भक्त और, ऋषि-मुनियों से ज्ञानी हैं।
देश की सेवा करते हैं हम, देश के सैनिक सच्चे हैं ।।
नन्हे-मुन्ने भोले-भाले............................।। 1।।

जाति-पाति और ऊँच-नीच का, भेद नहीं हम करते हैं
सब समाज के कष्टों को हम, अपना दुःख समझते हैं ।
मानवता मन में धारें हम, भले आयु में बच्चे हैं ।।
नन्हे-मुन्ने भोले-भाले............................।। 2।।

दुःख-दैन्य का तमस चीर कर, जग को राह दिखाएंगे।
भारत के वैभव का ध्वज,हम दुनिया में फहरायेंगे ।
राम-कृष्ण के वंशज हैं हम, गुरू गोविन्द के बच्चे हैं।।
नन्हे-मुन्ने भोले-भाले............................।। 3।।